GautambudhnagarGreater Noida

अप्रैल फेयर दिल्ली 2024 के दूसरे दिन जबरदस्त भीड़, अप्रैल फेयर दिल्ली में दूसरे दिन विदेशी और घरेलू खरीदारों का हुजूम उमड़ा

अप्रैल फेयर दिल्ली 2024 के दूसरे दिन जबरदस्त भीड़, अप्रैल फेयर दिल्ली में दूसरे दिन विदेशी और घरेलू खरीदारों का हुजूम उमड़ा

ग्रेटर नोएडा। अप्रैल फेयर दिल्ली 2024 के दूसरे दिन विदेशी और घरेलू वॉल्यूम खरीदारों की उपस्थिति में पहले दिन की अपेक्षा वृद्धि देखी गई। इसके साथ ही अरब, म्यांमार, सूरीनाम और अन्य राष्ट्रों के राजदूतों के साथ कई गणमान्य व्यक्तियों ने अप्रैल फेयर दिल्ली में शिरकत की। यहां उपस्थित प्रतिभागियों के खूबसूरती से सजाए गए स्टॉल्स ने खरीदारों के समूह को आकर्षित किया।  ई-कॉमर्स क्रॉस-बॉर्डर कॉन्क्लेव में लोगों ने गहरी रुचि दिखाई। विशेष रूप से क्रॉस-बॉर्डर ई-कॉमर्स में विस्तार करने के इच्छुक व्यवसायों के लिए बाजार पहुंच बढ़ाने पर आयोजित एक सत्र ने बड़ी संख्या में दर्शकों को आकर्षित किया, जो ई-कॉमर्स में विक्रेताओं की उच्च स्तर की भागीदारी और रुचि को दर्शाता है। मेले में अब तक 1,100 से अधिक लोग शामिल हो चुके हैं, जिनमें अंतरराष्ट्रीय और घरेलू खरीदार, खरीद एजेंट, खुदरा विक्रेता और कॉर्पोरेट प्रतिनिधि शामिल हैं।भारत सरकार में विदेश व्यापार के उप महानिदेशक श्री मोहम्मद मोइन अफाक ने ई-कॉमर्स के कई लाभों पर प्रकाश डाला, जिसमें बड़े अंतरराष्ट्रीय बाजार तक पहुंच और प्रत्यक्ष रूप से उपभोक्ताओं तक पहुंचने और बिक्री के द्वारा बेहतर लाभ अर्जित करना शामिल है। उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि वैश्विक पहुंच न केवल ब्रांड की दृश्यता और पहुंच बढ़ाती है, बल्कि अंतरराष्ट्रीय गुणवत्ता मानकों और नवीनतम रुझानों के बारे में जागरूकता भी बढ़ाती है। श्री मोहम्मद मोइन अफाक ने उद्यमियों को ई-कॉमर्स जुड़कर घरेलू बाजार की अस्थिरता को कम करने की क्षमता पर ज़ोर किया, और सीमा पार ई-कॉमर्स गतिविधियों को समर्थन और सुविधा प्रदान करने के लिए नामित ई-कॉमर्स एक्सपोर्ट हब (ईसीईएच) के निर्माण का प्रस्ताव रखा। दिलीप बैद ने मल्टी-मॉडल ई-कॉमर्स रणनीतियों पर चर्चा करते हुए वेयरहाउसिंग समाधानों को एकीकृत करने की आवश्यकता पर ज़ोर दिया। उन्होंने ई-कॉमर्स उद्योग के सामने आने वाली चुनौतियों को रेखांकित किया और व्यापक लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए उद्यमियों और स्टार्टअप को इन नए वाणिज्य प्लेटफार्मों को अपनाने के महत्व पर जोर दिया।इंडिया एक्सपोज़िशन मार्ट लिमिटेड के निदेशक श्री मुकेश गुप्ता ने कहा कि ई-कॉमर्स कॉन्क्लेव सरकार, आपूर्तिकर्ताओं, खरीदारों, लॉजिस्टिक्स और वित्तीय क्षेत्रों के बीच एक महत्वपूर्ण पुल के रूप में कार्य करता है। उन्होंने कहा कि सरकार की कोशिशों को प्रभावी ढंग से जनता तक पहुंचाया जा रहा है, और सरकारी हस्तक्षेप की आवश्यकता पर कार्रवाई किए जाने के वादे के साथ यह कॉन्क्लेव सफल रहा है।कॉन्क्लेव में ई-टेल बनाम रिटेल में ग्राहकों की प्राथमिकताओं और सीमा पार ई-कॉमर्स में सफल होने की रणनीतियों जैसे कई विषयों पर भी चर्चा की गई, जिसके साथ कई अन्य सत्र भी आयोजित किए गए। चर्चाओं के अलावा, विभिन्न विशेषज्ञों द्वारा पांच अन्य सत्र और कार्यशालाएं भी आयोजित की गईं।अप्रैल फेयर दिल्ली 2024 का दूसरा दिन आकर्षण से भरा हुआ था, जिसमें केवल 45 दिनों में इस महत्वपूर्ण मेले के आयोजन में उनके अनुकरणीय प्रयास के लिए टीम मार्ट प्रमोशन को पुरस्कार प्रदान किया गया। अप्रैल फेयर दिल्ली 2024 के दूसरे दिन ने पहले दिन की सफलता को आगे बढ़ाते हुए इसके महत्व को अंतर्राष्ट्रीय व्यापार कैलेंडर में एक आकर्षण के तौर पर रेखांकित किया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button