GautambudhnagarGreater Noida

पहले कांग्रेस अब भाजपा कर रही जांच एजेंसियों का गलत इस्तेमाल, बसपा सुप्रीमो मायावती ने भाजपा पर क्षत्रिय समाज की उपेक्षा करने का लगाया आरोप

पहले कांग्रेस अब भाजपा कर रही जांच एजेंसियों का गलत इस्तेमाल, बसपा सुप्रीमो मायावती ने भाजपा पर क्षत्रिय समाज की उपेक्षा करने का लगाया आरोप

शफी मौहम्मद सैफी

ग्रेटर नोएडा/सिकंदराबाद।यूपी के बुलंदशहर में बसपा सुप्रीमो मायावती ने कहा जो काम पहले कांग्रेस सरकार जांच एजेंसियों का दुरुपयोग करती थी। वही काम अब भाजपा सरकार कर रही है। गरीबों, वंचितों और अल्पसंख्यक वर्ग के लोगों को कोई लाभ नहीं मिल रहा है। इस सरकार में फायदा पूंजीपति तथा धनासेट उठा रहे हैं। सोमवार को मायावती गौतमबुद्धनगर लोकसभा सीट के बसपा प्रत्याशी राजेंद्र सोलंकी और बुलंदशहर लोकसभा सीट के प्रत्याशी गिरीश चंद्र जाटव के समर्थन में सिकंदराबाद में जनसभा को संबोधित कर रहीं थीं।

मायावती ने कहा कि पश्चिम उत्तर प्रदेश में क्षत्रिय समाज काफी संख्या में है। उन्होंने भाजपा पर क्षत्रिय समाज की उपेक्षा करने का आरोप लगाया। इससे क्षत्रिय समाज काफी नाराज हैं। कई जगह महापंचायत भी हुई है। कहा कि उनकी पार्टी सभी जातियों का सम्मान करती है। उन्होंने कहा कि पहले हम गौतमबुद्धनगर से गुर्जर समाज को टिकट देते थे, लेकिन अन्य पार्टियों भी हमारे वोट काटने के लिए गुर्जर समाज को टिकट देने लगीं। टिकट बंटवारे में सभी वर्गों का ध्यान रखा गया है। मायावती ने कहा कि हमने अपने कार्यकाल में नोएडा का नाम बदलकर गौतमबुद्धनगर रखा था। खूब विकास कार्य कराए।मायावती ने भाजपा पर हमला बोला और कहा कि जेवर एयरपोर्ट की भूमिका बसपा सरकार में बनी थी। इसका लाभ आज भाजपा सरकार उठा रही है और हमारे कराए गए विकास कार्यों को अपना बता रही है। भाजपा सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि भाजपा सरकार की कथनी और करनी में बहुत अंतर है। गरीबी मिटाने का दावा हवा-हवाई है। गारंटी का दावा जुमलों से ज्यादा कुछ नहीं है। भ्रष्टाचार देश से समाप्त होने की बजाय और बढ़ गया है। कांग्रेस के बारे में कहा कि जब कांग्रेस की सत्ता थी तो गरीबों और वंचितों का लगातार शोषण हुआ। यही कारण रहा कि कांग्रेस सत्ता से बाहर हो चुकी है। यही हाल बीजेपी का भी होगा। इस बार भाजपा सत्ता में वापस नहीं आने वाली है।मायावती ने कहा कि भाजपा और उनकी सहयोगी पार्टियां द्वेष पूर्ण काम करती हैं। भाजपा सरकार में केवल पूंजीपतियों का ही भला हो रहा है। उन्होंने कहा कि जब वह मुख्यमंत्री थीं, तब उन्होंने किसानों के हित में अनेकों कार्य किए। गन्ना मूल्य में वृद्धि की। किसानों को आसानी से सभी सुविधाएं मिल जाती थीं। अब किसानों की हालत बद से बदतर हो गई है, जिन किसानों की जमीन सरकार ने ले ली हैं। वह किसान मुआवजे के लिए धरना प्रदर्शन कर रहे हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button