GautambudhnagarGreater Noida

प्लास्टिक प्रदूषण के खिलाफ एनपीसीएल की मुहिम से जुड़े जेआईएमएस के छात्र।13 महीने में 20000 से ज्यादा प्लास्टिक बोतलों को किया रिसाइकिल, 7 आरवीएम स्थापित

प्लास्टिक प्रदूषण के खिलाफ एनपीसीएल की मुहिम से जुड़े जेआईएमएस के छात्र।

13 महीने में 20000 से ज्यादा प्लास्टिक बोतलों को किया रिसाइकिल, 7 आरवीएम स्थापित

शफी मौहम्मद सैफी

ग्रेटर नोएडा।प्लास्टिक प्रदूषण के खिलाफ नोएडा पावर कंपनी लिमिटेड की ओर से चलाई जा रही मुहिम का अब व्यापक असर देखने को मिल रहा है। ग्रेटर नोएडा को प्लास्टिक मुक्त बनाने की मुहिम में अब एनपीसीएल को दिल्ली के कालकाजी स्थित जगन्नाथ इंटरनेशनल मैनेजमेंट स्कूल के छात्रों का भी सहयोग मिल रहा है। जेआईएमएस के छात्रों की एक टीम ने ग्रेटर नोएडा पहुंचकर एक ही दिन में 200 से ज्यादा प्लास्टिक की बोतलें इक्टठा कर उन्हें एनपीसीएल की ओर से स्थापित आरवीएम मशीन में रिसाइकिल कर शहर को प्लास्टिक मुक्त बनाने के अभियान में अपना अहम योगदान दिया।एनपीसीएल की ओर से पिछले साल मार्च महीने में शुरु की गई इस मुहिम के तहत पिछले 13 महीनों में 20000 से ज्यादा प्लास्टिक की बोतलों को एकत्रिक कर उसे अलग-अलग आरवीएम मशीनों में रिसाइकिल किया जा चुका है। ग्रेटर नोएडा में एनपीसीएल की ओर से स्थापित 7 रिवर्स वेंडिंग मशीनों में रिसाइकिल के बाद 600 से ज्यादा टी-शर्ट तैयार कर उन्हें उन लोगों में वितरित किया जा चुका है जो प्लास्टिक की बोतल या फिर एल्यूमिनियम कैन को इक्टठा कर उसे रिसाइकिल करने में मदद करते हैं।एनपीसीएल की ओर से स्थापित आरवीएम (रिवर्स वेंडिंग मशीन) एक ऐसी मशीन है जिसमें इस्तेमाल की हुई प्लास्टिक की बोतल या फिर एल्यूमिनियम कैन को क्रश किया जाता है और बाद में रिसाइकिल कर उससे अलग-अलग वस्तुओं का निर्माण किया जाता है जिसमें टी-शर्ट, कैप इत्यादि शामिल हैं।ग्रेटर नोएडा को प्लास्टिक मुक्त बनाने की मुहिम में ज्यादा से ज्यादा लोग शामिल हों इसके लिए कुछ कंपनियों की ओर से प्लास्टिक की बोतल जमा कर उसे रिसाइकिल करने पर लोगों को रिवार्ड कूपन भी दिया जाता है।नोएडा पावर कंपनी लिमिटेड के इस प्रयास में लोगों की सक्रिय भागीदारी शहर को प्लास्टिक मुक्त बनाने की दिशा में अहम योगदान निभा रही है। एनपीसीएल को उम्मीद है कि आनेवाले दिनों में लोगों के सहयोग से इस मुहिम का और ज्यादा व्यापक असर दिखेगा जो हमारी आनेवाली पीढियों के लिए स्वच्छ और हरित भविष्य का मार्ग प्रशस्त करेगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button