GautambudhnagarGreater Noida

गलगोटियास विश्वविद्यालय में उद्यमिता टॉक सीरीज़: विज़न टू रियलिटी,” का हुआ आयोजन। 

गलगोटियास विश्वविद्यालय में उद्यमिता टॉक सीरीज़: विज़न टू रियलिटी,” का हुआ आयोजन। 

शफी मौहम्मद सैफी

ग्रेटर नोएडा। गलगोटियास विश्वविद्यालय में उद्यमिता टॉक सीरीज़: विज़न टू रियलिटी,” का आयोजन किया गया। इस उद्यमिता टॉक सीरीज़ में गलगोटियास विश्वविद्यालय के एक प्रबुद्ध एवम् पूर्व छात्र रोबिन गुप्ता ने अपना एक ओजस्विता पूर्ण और विद्यार्थियों का मार्गदर्शन करने वाला प्रेरणा दायक अभिभाषण दिया।गलगोटियास यूनिवर्सिटी के विद्यार्थियों ने आज “एंटरप्रेन्योरशिप टॉक सीरीज़: विज़न टू रियलिटी” के दौरान उद्यमशीलता के उत्साह में वृद्धि और एक गौरवपूर्ण क्षण का अनुभव किया, जिसमें “कॉन्शियस केमिस्ट” के संस्थापक रॉबिन गुप्ता शामिल थे। वह स्कूल ऑफ बिजनेस, गलगोटियास विश्वविद्यालय के एक प्रबुद्ध पूर्व छात्र हैं, जिन्होंने प्रसिद्ध टीवी कार्यक्रम शार्क टैंक, सीजन 3 में एक संभावित प्रतियोगी के रूप में प्रदर्शित होकर अल्मा मैटर का नाम रोशन किया है। उनके द्वारा दिये गये लगभग एक घंटे के इस महत्वपूर्ण वक्तव्य ने विद्यार्थियों को अपने उज्ज्वल भविष्य के निर्माण करने के लिये तो प्रेरित किया ही। साथ ही साथ कठिन से कठिन परिस्थितियों में भी संघर्षरत रहकर अपने उद्देश्य को पाने के लिये भी प्रेरित किया। उन्होंने कहा कि “कठिन परिश्रम” ही सफलता की कुंजी है।उन्होंने कहा कि दूर-दृष्टि, पक्का इरादा,

कठिन परिश्रम और अनुशासन ये सभी सफलता के मूल मंत्र हैं। आप सभी इन्हें अपना कर अपने जीवन में आगे बढते रहें। रॉबिन के प्रवचन ने संकल्पना से कार्यान्वयन तक उद्यमशीलता यात्रा में अमूल्य अंतर्दृष्टि प्रदान की। उन्होंने छात्रों के साथ गहराई से बातचीत करते हुए एक बिजनेस मॉडल को डिजाइन करने और उसके लिए भारी फंडिंग हासिल करने की जटिलताओं को साझा किया। उनकी बातचीत ने प्रेरणा के प्रतीक के रूप में कार्य किया, छात्रों और संकाय से उनकी उद्यमशीलता आकांक्षाओं को दृढ़ विश्वास के साथ अपनाने का आग्रह किया। हम गहन ज्ञानवर्धक सत्र देने के लिए रॉबिन गुप्ता के प्रति अपनी हार्दिक कृतज्ञता व्यक्त करते हैं। जो कई उद्यमशीलता गतिविधियों को प्रज्वलित करने के लिए तैयार है। स्कूल ऑफ बिजनेस की एसोसिएट डीन डॉ. अनामिका पांडे ने रॉबिन गुप्ता का स्वागत किया और उन्हें दर्शकों से परिचित कराया। इस कार्यक्रम की समन्वयक डॉ. फातिमा कासिम और मैथ्यू ने धन्यवाद ज्ञापन प्रस्तुत किया। रॉबिन गुप्ता छात्रों के साथ अपना अनुभव साझा करते हुए अभिभूत थे और उन्होंने आशा व्यक्त की कि उनकी कहानी साथी छात्रों और उभरते उद्यमियों को अपने जुनून को आगे बढ़ाने और बड़े सपने देखने के लिए प्रेरित कर सकती है, जैसा कि मैंने किया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button