गौतमबुद्धनगर

लुकसर जेल विवादों के घेरे में? हाईटेक जिले की जेल में कैदी भी सुरक्षित नहीं। आरिफ की मौत छोड़ गई बड़ा सवाल आखिर क्या कर रहा था जेल प्रशासन।

लुकसर जेल में 2 बंदियों के बीच झगड़ा हुआ जिसमें एक बंदी की गंभीर चोट लगने के कारण इलाज के दौरान मौत हो गई यह कोई छोटी घटना नहीं हाईटेक सिटी कहा जाने वाला नोएडा उसकी एक जेल है लुकसर जेल क्या उसमें बंदी सुरक्षित नहीं है आरिफ की मौत से यह बहुत बड़ा सवाल खड़ा हो गया है कि जेल प्रशासन क्या करता है इतनी बड़ी मारपीट कैसे हुई जिससे आरिफ को इतनी गंभीर चोट लगी कि वह संभल नहीं पाया फिलहाल आरिफ के परिजन कार्रवाई की तैयारी कर रहे हैं परिजनों का कहना है कि इस मामले की शिकायत वह मुख्यमंत्री प्रधानमंत्री मानव अधिकार आयोग सब जगह करेंगे परिजनों का कहना है कि इतनी बड़ी घटना जेल के अंदर अंजाम कर दी गई परिजनों का कहना है कि मारपीट से आरिफ की डिस्क में भारी चोट लगी थी जिससे उसका बदन के आधे हिस्से ने काम करना बंद कर दिया था हालांकि इस बारे में जेलर सत्य प्रकाश ने बताया कि  आरिफ  का जेल के तीन नंबर अहाते में रहने वाले एक कैदी से झगड़ा हुआ था और झगड़े में आरिफ को चोट लगी उसके बाद उसे जिला अस्पताल भेजा गया जहां से उसे दिल्ली सफदरजंग अस्पताल भेजा गया जहां उसका ऑपरेशन होने के बाद ठीक होने पर उसे जेल वापस भेज दिया गया लेकिन गुरुवार दोपहर अचानक उसकी तबीयत खराब हुई इसी दौरान उसे एंबुलेंस द्वारा जिला अस्पताल भेजा गया लेकिन रास्ते में ही उसने दम तोड़ दिया अब सवाल यह पैदा होता है कि यह नोएडा जिला जो हाईटेक जिला है वहां पर कैदियों की सुरक्षा के क्या उपाय हैं आरिफ की मौत जेल प्रशासन पर प्रश्नचिन्ह लगाती है कि लुकसर जेल में कैदी कितने सुरक्षित हैं

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close
×

Powered by WhatsApp Chat

×